मंगलवार, 29 सितंबर 2009

मैं 'घुमन्तू '

बहुत दिन हो गए | कई दिनों से जरा घूमने के शौक में व्यस्त हूँ | पता नहीं क्यों आजकल घर पे नहीं टिक पाता | एक अलग एहसास है घूमने में भी |
आज फिर से कविता लिखने की कोशिश की तो वही कुछ लिख पड़ा |

गुम हूँ कहीं
लेकिन,
खोया नहीं हूँ
खोज ही रहा हूँ अब तक
आजमा रहा हूँ तरीका नया |

इन दिनों देखता हूँ
हर जगह से उगता सूरज ,
महसूस करना चाहता हूँ
हर ख़ुशी को उसकी |

हर डूबते सूरज से,
मिल पड़ता है
राह में जो,
पूछता हूँ उसके अनुभव |
सोचता हूँ कुछ,
थोडा समझता हूँ
फिर खोजता हूँ |

हर पानी से पूछता हूँ
राज़ क्या है
निरंतरता का उसकी,
नयी-नयी हवाएं ,
कह जाती हैं कुछ
कान में धीमे से
फुसफुसाकर|
कभी उलझा जाती हैं,
कुछ सुलझ भी पड़ता है कभी,

समय एक चक्र है
और जीवन भी,
सब घूमता है|
पहले अकेला बैठ
घुमाता था दिमाग को,
सोचता था कुछ ,
खोजता था |

पर
इन दिनों
घूमता हूँ
चक्के की तरह,
लेकिन,
चक्के सा बेजान नहीं |

जैसे लग गए पहिये मुझ में,
बस नापना चाहते हैं,
दूरियां सारी |
लेकिन अब भी खोजता हूँ,
देखता हूँ बहुत कुछ
समझता हूँ नया
न जाने क्या कुछ |
इन दिनों
बन गया हूँ
मैं 'घुमन्तू'|

----------------निपुण पाण्डेय "अपूर्ण "

6 टिप्पणियाँ:

Mithilesh dubey मंगलवार, 29 सितंबर 2009 को 11:28:00 pm IST  

बहुत खुब भाई जी, उम्दा रचना। बधाई

Mumukshh Ki Rachanain शनिवार, 3 अक्तूबर 2009 को 4:34:00 pm IST  

देखता हूँ बहुत कुछ
समझता हूँ नया
न जाने क्या कुछ |

बहुत सुन्दर, भाई बहुत कुछ पाओगे इस तरह तो अपने कबीर की तरह......

हत्दिक बधाई.

चन्द्र मोहन गुप्त
जयपुर
www.cmgupta.blogspot.com

दिगम्बर नासवा शनिवार, 10 अक्तूबर 2009 को 4:39:00 pm IST  

जीवन के चक्र के साथ चलना उसको अनुभव करना ......... सच में अभूतपूर्व है... सुन्दर लिखा है .....

abha शनिवार, 24 अक्तूबर 2009 को 12:44:00 pm IST  

गुम हूँ कहीं
लेकिन,
खोया नहीं हूँ
खोज ही रहा हूँ अब तक
आजमा रहा हूँ तरीका नया |


bahut sunder....

रश्मि प्रभा... रविवार, 15 नवंबर 2009 को 7:41:00 pm IST  

हर पानी से पूछता हूँ
राज़ क्या है
निरंतरता का उसकी,
नयी-नयी हवाएं ,
कह जाती हैं कुछ
कान में धीमे से
फुसफुसाकर|..........

वाह, यह तो बड़ी अच्छी बात है, क्या कहा हवाओं ने ?

कविता by निपुण पाण्डेय is licensed under a Creative Commons Attribution-Noncommercial-No Derivative Works 2.5 India License. Based on a work at www.nipunpandey.com. Permissions beyond the scope of this license may be available at www.nipunpandey.com.

  © Blogger templates The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP