बुधवार, 31 दिसंबर 2008

नवल वर्ष है...

नवल वर्ष है
नवल हर्ष हो
नवल उमंगें
क्रांति नवल हो |

नव आशाएं
नवल स्फूर्ति हो
महके तन मन
स्वप्न नवल हों |

मिटें पुराने
तम् के बंधन
नवल चेतना
मुस्कान नवल हो |

शोक रोग भय
सब धूमिल हों
नव अभिलाषा
उत्साह नवल हो |

उन्नति पथ को
पकड़ चला चल
गीत नए गा
संकल्प नवल हों |

नवल भोर है
नूतन किरणे
सिंचित इनसे
प्राण नवल हो |

देख शिखर को
कर नव आरोहण
नवल वर्ष में
सब मंगल हो
सब मंगल हो.......


------------- निपुण पाण्डेय "अपूर्ण"

19 टिप्पणियाँ:

sobi बुधवार, 31 दिसंबर 2008 को 1:58:00 pm IST  

waah dost.. fir form main aagaye...
nav varsh ki aapko bhi dher saari shubh kaamnaye :)

दिगम्बर नासवा बुधवार, 31 दिसंबर 2008 को 9:15:00 pm IST  

निपूर्ण जी
सुंदर भावः प्रधान कविता, नवीन लेखन

आप सब को नव वर्ष की ढेरों शुभ-कामनाएं

SANJAY SINGH गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 7:48:00 am IST  

आपको नव वर्ष की हार्दिक शुभ कामनाएं । सुंदर भावः प्रधान कविता लेखन के लिये पुनह धन्यबाद्।

प्रदीप मानोरिया गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 10:55:00 am IST  

नव वर्ष मंगल मय हो
आपका सहित्य सृजन खूब पल्लिवित हो
प्रदीप मानोरिया
09425132060

प्रवीण जाखड़ गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 11:37:00 am IST  

उम्मीदों-उमंगों के दीप जलते रहें
सपनों के थाल सजते रहें
नव वर्ष की नव ताल पर
खुशियों के कदम थिरकते रहें।


नव वर्ष की ढेर सारी शुभकामनाएं।

Nipun गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 11:45:00 am IST  

बहुत बहुत धन्यवाद
आप सब को नूतन वर्ष की हार्दिक शुभ कामनाये

santosh गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 11:54:00 am IST  

bahut sahi hai dost.....aapko bhi dher saari naya varsh ka shubh kaamnaye ;)...aisa hein hum umeed karte hai ki aap aur kavitha likhne ka..

Pt.डी.के.शर्मा"वत्स" गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 11:56:00 am IST  

पहने सपनों की विजय माल
हो बहुत मुबारक नया साल
उपहार पुष्प मादक गुलाब
मीठी सुगंध उत्सव शबाब

शुभ गीत नृत्य और मधुर ताल
हो बहुत मुबारक नया साल

varun गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 12:11:00 pm IST  

बहुत अच्छे दोस्त !
नवीन वर्ष की आप सभी को हार्दिक शुभकामनाये!!
आशा है की इस वर्ष भी आप हमे पिछले वर्ष की ही भांति कविताये स्वरूपी उपहार देते रहेंगे !!

varun गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 12:11:00 pm IST  
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
दीपाली गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 12:12:00 pm IST  
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
Amol गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 12:13:00 pm IST  

Bahot Badhiya Dost ... Naya Saal Aapko bhi mubarak hoo... aaapke jaise ham shabdo me nahi bata sakte but.... hamari shubhakamnaye

दीपाली गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 12:13:00 pm IST  

बहुत सुंदर कविता .....नव वर्ष मंगलमय हो
may all these come to u in ur life

Saurabh गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 12:24:00 pm IST  

कविता बहुत सुंदर है .
हम आपको नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाये देते है और आशा करते है की आपको वो सब मिले जो अभीष्ट और काम्य है . आपको सब तरह का सुख लम्बी उम्र देस विदेश मे नाम और ख्याति प्राप्त हो !

sanjaygrover गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 2:13:00 pm IST  

इधर से गुज़रा था सोचा सलाम करता चलूंऽऽऽऽऽऽऽ
(और बधाई भी देता चलूं...)

Manoj Kumar Soni गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 2:27:00 pm IST  

बहुत ... बहुत .. बहुत अच्छा लिखा है
हिन्दी चिठ्ठा विश्व में स्वागत है
टेम्पलेट अच्छा चुना है. थोडा टूल्स लगाकर सजा ले .
कृपया वर्ड वेरिफ़िकेशन हटा दें .(हटाने के लिये देखे http://www.manojsoni.co.nr )
कृपया मेरा भी ब्लाग देखे और टिप्पणी दे
http://www.manojsoni.co.nr और http://www.lifeplan.co.nr

Sangeeta गुरुवार, 1 जनवरी 2009 को 4:40:00 pm IST  

navarsh aapko bhi mubarak ho.aur aapki pure parivar ke liye mangalmaye ho..kavita bahut acchi hai...apse aisi hi aur kavitao ki hum umeed rakhte hai...

प्रवीण त्रिवेदी...प्राइमरी का मास्टर शुक्रवार, 2 जनवरी 2009 को 8:50:00 am IST  

हिन्दी ब्लॉग जगत में आपका हार्दिक स्वागत है, मेरी शुभकामनायें.....आशा है , आप अपनी प्रतिभा से हिन्‍दी चिटठा जगत को समृद्ध करने और हिन्‍दी पाठको को ज्ञान बांटने के साथ साथ खुद भी सफलता प्राप्‍त करेंगे .....हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।आप सब को नव वर्ष की ढेरों शुभ-कामनाएं

प्राइमरी का मास्टर का पीछा करें


हो सके तो अपने ब्लॉग लिस्ट में इस चिट्ठे को भी शामिल कर लें!!!

संगीता पुरी शनिवार, 10 जनवरी 2009 को 10:51:00 am IST  

बहुत सुंदर...आपके इस सुंदर से चिटठे के साथ आपका ब्‍लाग जगत में स्‍वागत है.....आशा है , आप अपनी प्रतिभा से हिन्‍दी चिटठा जगत को समृद्ध करने और हिन्‍दी पाठको को ज्ञान बांटने के साथ साथ खुद भी सफलता प्राप्‍त करेंगे .....हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।

कविता by निपुण पाण्डेय is licensed under a Creative Commons Attribution-Noncommercial-No Derivative Works 2.5 India License. Based on a work at www.nipunpandey.com. Permissions beyond the scope of this license may be available at www.nipunpandey.com.

  © Blogger templates The Professional Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP